how to check spam score of a website किसी वेबसाइट का स्पैम स्कोर कैसे चेक करें

किसी वेबसाइट में स्पैम स्कोर उस संभावना के संख्यात्मक या गुणात्मक माप को संदर्भित करता है इस पोस्ट मे जानेंगे how to check spam score of a website या किसी भी वैबसाइट का स्पैम स्कोर कैसे चेक करें कोई वेबसाइट स्पैमयुक्त या निम्न-गुणवत्ता वाली सामग्री, लिंक या प्रथाओं से जुड़ी हो सकती है। इसका उपयोग मुख्य रूप से किसी वेबसाइट की विश्वसनीयता और विश्वसनीयता का आकलन करने के लिए खोज इंजन अनुकूलन (एसईओ) के क्षेत्र में किया जाता है। एक उच्च स्पैम स्कोर साइट पर स्पैमी या अनैतिक रणनीति के उपयोग के बड़े जोखिम को इंगित करता है, जबकि कम स्पैम स्कोर एक साफ-सुथरी और अधिक प्रतिष्ठित वेबसाइट का सुझाव देता है।

Table of Contents

how to check spam score of a website

यहां कुछ सामान्य कारक दिए गए हैं जो किसी वेबसाइट के लिए उच्च स्पैम स्कोर में योगदान कर सकते हैं:

निम्न-गुणवत्ता वाले बैकलिंक्स: यदि किसी वेबसाइट पर बड़ी संख्या में निम्न-गुणवत्ता वाले या अप्रासंगिक बैकलिंक्स हैं, तो यह उसका स्पैम स्कोर बढ़ा सकता है। ये बैकलिंक लिंक फ़ार्म या अन्य स्रोतों से आ सकते हैं जो स्पैमयुक्त लिंक-निर्माण प्रथाओं के लिए जाने जाते हैं।

डुप्लिकेट सामग्री: बहुत कम मूल या मूल्यवान सामग्री वाली वेबसाइटें, या जिनमें अधिक मात्रा में डुप्लिकेट सामग्री होती है, उन्हें उच्च स्पैम स्कोर के लिए चिह्नित किया जा सकता है।

कीवर्ड स्टफिंग: कीवर्ड स्टफिंग में खोज इंजन रैंकिंग में हेरफेर करने के प्रयास में कीवर्ड के साथ वेब पेजों को ओवरलोड करना शामिल है। ऐसी प्रथाओं के परिणामस्वरूप उच्च स्पैम स्कोर हो सकता है।

मैलवेयर या फ़िशिंग: यदि किसी वेबसाइट में मैलवेयर है या वह फ़िशिंग गतिविधियों में संलग्न है, तो संभवतः उसका स्पैम स्कोर उच्च होगा।

अप्राकृतिक लिंकिंग पैटर्न: अप्राकृतिक लिंकिंग पैटर्न, जैसे अत्यधिक पारस्परिक लिंकिंग या लिंक खरीदना, उच्च स्पैम स्कोर में योगदान कर सकते हैं।

उपयोगकर्ता-जनित स्पैम: जो वेबसाइटें उपयोगकर्ता-जनित सामग्री की अनुमति देती हैं, उनमें स्पैमयुक्त या निम्न-गुणवत्ता वाली सामग्री जमा हो सकती है, जो उनके स्पैम स्कोर पर नकारात्मक प्रभाव डाल सकती है।

यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि स्पैम स्कोर Google जैसे खोज इंजन द्वारा उपयोग किया जाने वाला आधिकारिक मीट्रिक नहीं है। इसके बजाय, अक्सर वेबसाइट मालिकों को संभावित मुद्दों का आकलन प्रदान करने के लिए एसईओ टूल और सेवाओं द्वारा इसकी गणना की जाती है जो उनकी खोज इंजन रैंकिंग या ऑनलाइन प्रतिष्ठा को नुकसान पहुंचा सकते हैं। वेबसाइट मालिक इन स्पैम स्कोर आकलन का उपयोग संभावित समस्याओं की पहचान करने और उनका समाधान करने तथा अपनी वेबसाइटों की गुणवत्ता में सुधार करने के लिए एक दिशानिर्देश के रूप में कर सकते हैं।

how to check spam score of a website

किसी वेबसाइट का स्पैम स्कोर जांचने के लिए आप निम्नलिखित कई तरीकों का उपयोग कर सकते हैं:

  1. Google Safe Browsing: आप वेबसाइट का स्पैम स्कोर Google Safe Browsing का उपयोग करके जांच सकते हैं। आप इसे गूगल में सर्च करके पहुंच सकते हैं और वहां वेबसाइट के URL को एंटर करके जांच सकते हैं।
  2. Spam Score Checker टूल: आप ऑनलाइन स्पैम स्कोर चेक करने वाले टूल्स का उपयोग करके भी वेबसाइट का स्पैम स्कोर जांच सकते हैं। कुछ वेबसाइट पर आपको वेबसाइट URL दर्ज करने की अनुमति देती हैं, और वे आपको उसका स्पैम स्कोर प्रदान करती हैं।
  3. SEO टूल्स: कुछ SEO टूल्स भी वेबसाइट के स्पैम स्कोर की जांच करने में मदद कर सकते हैं। Moz, Ahrefs, SEMrush जैसी प्लेटफार्म्स पर वेबसाइट के स्पैम स्कोर के बारे में जानकारी दी जाती है।
  4. वेबसाइट की सामग्री की जांच: अक्सर वेबसाइट की सामग्री और लिंक का विश्लेषण करके आप स्पैम संकेतों को पहचान सकते हैं। यदि वेबसाइट पर अधिक विज्ञापन, गंदी या असंविदानिक सामग्री है, तो यह स्पैम के संकेत हो सकते हैं।
  5. वेबसाइट स्कैनिंग टूल्स: आपके डिवाइस पर वायरस स्कैनिंग टूल्स का उपयोग करके भी स्पैम संकेतों को पकड़ सकते हैं।

यदि आपको विशेष जानकारी चाहिए या किसी विशिष्ट वेबसाइट का स्पैम स्कोर जांचने में सहायता की आवश्यकता हो, तो आप मेरी मदद के लिए वेबसाइट का URL भी साझा कर सकते हैं, और मैं आपको अधिक जानकारी प्रदान कर सकता हूँ।

1.Google Safe Browsing से स्पैम स्कोर कैसे चेक करें?

गूगल सेफ ब्राउजिंग का उपाय स्पैम स्कोर चेक करने के लिए किया जा सकता है, लेकिन ध्यान रखें कि गूगल सेफ ब्राउजिंग से आप सिर्फ ये जान सकते हैं कि क्या एक विशिष्ट यूआरएल स्पैम है या नहीं, इसका स्पैम स्कोर सटीक संख्यात्मक फॉर्म में नहीं पता चलता . Google सुरक्षित ब्राउज़िंग एक ऑनलाइन टूल है जिसका उपयोग आप किसी भी URL की सुरक्षा स्थिति की जांच करने के लिए कर सकते हैं।

यहां Google सुरक्षित ब्राउज़िंग से एक यूआरएल की सुरक्षा स्थिति की जांच करने का तरीका है:

अपने वेब ब्राउजर में गूगल सेफ ब्राउजिंग का पेज खोलें। check spam score

यहां एक सर्च बार होगा, जिसका आपको यूआरएल एंटर करना होगा जिसे आप चेक करना चाहते हैं।

यूआरएल दर्ज करने के बाद, “खोज” बटन पर क्लिक करें।

Google सुरक्षित ब्राउज़िंग आपको बताएगा कि URL स्पैम है या नहीं। अगर यूआरएल स्पैम है तो आपको उसका स्टेटस दिखाया जाएगा।

ध्यान रखें कि Google सुरक्षित ब्राउज़िंग केवल विशिष्ट यूआरएल की सुरक्षा स्थिति की जांच करता है, इसका मतलब यह है कि अगर आप किसी वेबसाइट का समग्र स्पैम स्कोर या प्रतिष्ठा के बारे में जान न चाहते हैं तो आपको अलग-अलग तरीकों का उपयोग करना होगा, जैसे कि एसईओ उपकरण हां ऑनलाइन स्पैम स्कोर चेकर्स।

2.Spam Score Checker tool से स्पैम score कैसे चेक करें?

स्पैम स्कोर चेकर टूल का उपयोग करके आप किसी वेबसाइट का स्पैम स्कोर चेक कर सकते हैं। ये टूल ऑनलाइन अपलोड होता है और वेबसाइट मालिकों, डिजिटल विपणक, और एसईओ पेशेवरों के लिए उपयोगी होता है स्पैमी लिंक और सामग्री का पता लगाएं। नीचे दिए गए कुछ कदम हैं जिनसे आप स्पैम स्कोर चेकर टूल का उपयोग कर सकते हैं

स्पैम स्कोर चेकर टूल खोजें: आप किसी भी सर्च इंजन में “स्पैम स्कोर चेकर टूल” सर्च करके ऑनलाइन टूल खोज सकते हैं। काई टूल उपलब्ध हैं, जिनमें मोज, अहेरेफ्स, सेमरश और छोटे एसईओ टूल शामिल हैं।

टूल को ओपन करें: आप जिस टूल का उपयोग करना चाहते हैं, उसकी वेबसाइट पर जाएं।

यूआरएल एंटर करें: टूल के इंटरफेस पर जाएं और वेबसाइट का यूआरएल एंटर करें, जिसका स्पैम स्कोर आप चेक करना चाहते हैं।

चेक या एनालाइज़ बटन पर क्लिक करें: यूआरएल एंटर करने के बाद, “चेक” या “एनालिसिस” जैसे एक बटन पर क्लिक करें। टूल अब वेबसाइट के स्पैम स्कोर का विश्लेषण करेगा।

परिणाम देखें: टूल आपको वेबसाइट का स्पैम स्कोर दिखाएगा, जो कि एक संख्यात्मक मान में होता है। आम तौर पर, कम स्पैम स्कोर (0 से 3) बेहतर गुणवत्ता और कम स्पैम जोखिम का संकेत देते हैं, जबकि उच्च स्कोर (3 से ऊपर) उच्च स्पैम जोखिम का संकेत दे सकते हैं।

विस्तृत विश्लेषण: कुछ उपकरण विस्तृत विश्लेषण भी प्रदान करते हैं, जिसे आप देख सकते हैं कि वेबसाइट का कौन सा पहलू स्पैमी है, जैसे कि स्पैमी बैकलिंक्स या सामग्री।

ध्यान रहे कि हर टूल का अपना स्पैम स्कोर कैलकुलेशन एल्गोरिदम होता है, इसलिए एक ही वेबसाइट के लिए अलग-अलग टूल्स से अलग स्पैम स्कोर मिल सकते हैं। आप कई टूल का उपयोग करके एक सही और व्यापक विचार प्राप्त कर सकते हैं कि किसी वेबसाइट का स्पैम स्कोर क्या है।

Moz टूल से स्पैम स्कोर कैसे चेक करें

मोज़, एक लोकप्रिय एसईओ टूल है, जो वेबसाइट के स्पैम स्कोर को चेक करने के लिए भी उपयोग कर सकता है। यहां मैं आपको मोज के “लिंक एक्सप्लोरर” टूल का उपयोग करके स्पैम स्कोर चेक करने का चरण-दर-चरण तरीका बता रहा हूं:

मोज़ेज़ की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएँ: Check now

यहां आपको “लिंक एक्सप्लोरर” लिखा हुआ होगा, हमें पर क्लिक करें।

अब आपके सामने एक सर्च बार होगा। इसमें वो वेबसाइट का यूआरएल दर्ज करें जिसका स्पैम स्कोर आप जानना चाहते हैं।

यूआरएल दर्ज करने के बाद, “विश्लेषण करें” बटन पर क्लिक करें।

मोज़ेज़ लिंक एक्सप्लोरर अब आपकी उस वेबसाइट के कुछ महत्वपूर्ण मेट्रिक्स दिखाएगा, जिसमें से एक मेट्रिक है “स्पैम स्कोर।” ये स्कोर 0 से 100 के बीच हो सकता है, जहां 0 स्पैम स्कोर का मतलब है कि वेबसाइट स्पैम मुक्त है और 100 सबसे अधिक स्पैम है।

आपकी वेबसाइट का स्पैम स्कोर देखने के लिए, “स्पैम स्कोर” के नीचे हमारे स्कोर की वैल्यू दिखेगी। जैसे की, “स्पैम स्कोर: ?”।

मोज़ के लिंक एक्सप्लोरर टूल से आप एक वेबसाइट का स्पैम स्कोर जान सकते हैं। उच्च स्पैम स्कोर वाली वेबसाइटों से बचना बेहतर होता है, क्योंकि ये स्पैम व्यवहार को सही करती हैं।

ध्यान रखें कि मोज़ के मुफ़्त संस्करण में आप सीमित प्रश्न पूछ सकते हैं। अगर आपको अधिक कार्यक्षमता और प्रश्नों की आवश्यकता है, तो आप मोज़ प्रो की सदस्यता पर विचार कर सकते हैं।

how to check backlink of website

Ahrefs टूल से स्पैम स्कोर कैसे चेक करें

Ahrefs एक लोकप्रिय SEO टूल है, जिसका upayog वेबसाइट सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन (SEO) मेट्रिक्स, बैकलिंक्स, और स्पैम स्कोर चेक करने के लिए किया जाता है। यहां Ahrefs से स्पैम स्कोर चेक करने का तरीका है:

Ahrefs की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएँ: अपने वेब ब्राउज़र में Ahrefs की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएँ: https://ahrefs.com/

Ahrefs अकाउंट बनाएं (अगर नहीं है): अगर आपके पास Ahrefs अकाउंट नहीं है, तो आपको एक अकाउंट बनाना होगा।

डैशबोर्ड पर लॉगिन करें: अकाउंट बनाने के बाद, अहेरेफ़्स डैशबोर्ड पर लॉगिन करें।

साइट एक्सप्लोरर का उपयोग करें: Ahrefs के डैशबोर्ड में, “साइट एक्सप्लोरर” टूल का उपयोग करें। क्या टूल से आप किसी भी वेबसाइट की डिटेल्स और मेट्रिक्स देख सकते हैं, जिसमें स्पैम स्कोर भी शामिल है।

वेबसाइट यूआरएल एंटर करें: “साइट एक्सप्लोरर” में आपको एक सर्च बार मिलेगा, जहां पर आपकी वेबसाइट का यूआरएल एंटर करना होगा जिसे आप चेक करना चाहते हैं। यूआरएल दर्ज करने के बाद, “खोजें” या “चेक करें” बटन पर क्लिक करें।

मेट्रिक्स देखें: अहेरेफ्स आपको वेबसाइट के मेट्रिक्स दिखाएगा, जिसमें से एक मेट्रिक स्पैम स्कोर है। स्पैम स्कोर आम तौर पर 0 से 100 के बीच होता है

SEMrush टूल से स्पैम स्कोर कैसे चेक करें

SEMrush एक विशेषज्ञ SEO टूल है जो आपको वेबसाइट परफॉर्मेंस, SEO हेल्थ और स्पैम स्कोर की जानकारी प्रदान कर सकता है। यहां SEMrush का उपयोग करके स्पैम स्कोर चेक करने का तरीका दिया गया है:

SEMrush की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएँ और अपने अकाउंट में लॉगिन करें। अगर आपका SEMrush अकाउंट नहीं है, तो आपको एक अकाउंट बनाना होगा।

लॉगिन करने के बाद, SEMrush डैशबोर्ड पर जाएँ। यहां से आप किसी भी वेबसाइट का स्पैम स्कोर चेक कर सकते हैं।

SEMrush के डैशबोर्ड में “डोमेन एनालिटिक्स” या “साइट ऑडिट” जैसे फीचर्स शामिल होंगे। आपका उद्देश्य वेबसाइट का स्पैम स्कोर चेक करना है, इसलिए “साइट ऑडिट” एक अच्छा विकल्प हो सकता है।

साइट ऑडिट में, आपकी वेबसाइट का यूआरएल दर्ज करके “ऑडिट” या “स्टार्ट ऑडिट” पर क्लिक करना होगा। SEMrush अब वेबसाइट के पेजों को स्कैन करेगा और उसकी समग्र स्वास्थ्य और स्पैम स्कोर की रिपोर्ट तैयार करेगा।

ऑडिट पूरा होने पर, आपको एक विस्तृत रिपोर्ट मिलेगी जिसकी वेबसाइट की अलग-अलग प्रकृति की जानकारी और प्रदर्शन मेट्रिक्स होंगे, जैसे कि स्पैम स्कोर, बैकलिंक्स, क्रॉल त्रुटियां, और भी बहुत कुछ।

स्पैम स्कोर चेक करने के लिए, आप रिपोर्ट में “स्पैम स्कोर” या “टॉक्सिक स्कोर” सेक्शन में जाएंगे। यहां आप देख सकते हैं कि वेबसाइट का स्पैम स्कोर क्या है।

ध्यान रहे कि SEMrush एक प्रीमियम टूल है, इसका मतलब यह है कि आपको इसका उपयोग कुछ सीमित मुफ्त सुविधाओं के साथ ही मिल सकता है। अगर आप विस्तृत और अधिक जानकारी चाहते हैं तो SEMrush के प्रीमियम सब्सक्रिप्शन की तरफ विचार कर सकते हैं।

SEMush के अलावा और भी ऑनलाइन टूल उपलब्ध हैं जो स्पैम स्कोर चेक करने में मददगार हो सकते हैं।

स्पैम स्कोर की गणना कैसे की जाती है?


स्पैम स्कोर की गणना विभिन्न SEO टूल्स और सेवाओं द्वारा की जाती है, और यह एक वेबसाइट की संविदानिकता और विश्वासनीयता को मापने का प्रयास होता है। इसका उद्देश्य है यह देखना है कि क्या वेबसाइट किसी तरह के स्पैमी या गिरे हुए गुणवत्ता के साथ जुड़ सकती है, जैसे कि कम-गुणवत्ता की सामग्री, लिंक, या तकनीक। इसे मुख्य रूप से सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन (SEO) में वेबसाइट के विश्वासनीयता की आकलन के लिए उपयोग किया जाता है।

स्पैम स्कोर की गणना करने के लिए, निम्नलिखित कुछ सामान्य मापदंडों का विचार किया जाता है:

  1. बैकलिंक्स की गुणवत्ता: एक वेबसाइट के पास कम-गुणवत्ता या अनवर्णित बैकलिंक्स की बड़ी संख्या होने पर उसका स्पैम स्कोर बढ़ सकता है। ये बैकलिंक्स लिंक फार्म्स या अन्य स्पैमी लिंक निर्माण प्रथाओं से आ सकते हैं।
  2. कम-गुणवत्ता की सामग्री: वेबसाइट जो बहुत कम मूल या मूल्यवान सामग्री रखती है, या जिनमें अधिक दोहरी सामग्री होती है, वे अपने स्पैम स्कोर को बढ़ा सकते हैं।
  3. कीवर्ड स्टफिंग: कीवर्ड स्टफिंग में, वेब पेज्स को कीवर्ड्स से भर दिया जाता है, ताकि सर्च इंजन रैंकिंग्स को मोड़ने का प्रयास किया जा सके। इस तरह के प्रथाओं से स्पैम स्कोर बढ़ सकता है।
  4. मैलवेयर या फिशिंग: अगर एक वेबसाइट में मैलवेयर होता है या फिशिंग गतिविधियाँ होती हैं, तो वह आमतौर पर अधिक स्पैम स्कोर प्राप्त करेगी।
  5. अन्य प्राकृतिक लिंकिंग पैटर्न: अन्य प्राकृतिक लिंकिंग पैटर्न, जैसे कि अत्यधिक परस्पर लिंकिंग या लिंकों की खरीददारी, एक उच्च स्पैम स्कोर का कारण बन सकते हैं।

क्या स्पैम स्कोर SEO को प्रभावित करता है?

हाँ, स्पैम स्कोर SEO को प्रभावित कर सकता है। SEO (Search Engine Optimization) का उद्देश्य होता है वेबसाइट को खोज इंजन में बेहतर प्रदर्शित करना और उसकी वेब यातायात को बढ़ाना। एक वेबसाइट का स्पैम स्कोर उसकी सर्च इंजन प्रतिष्ठा और रैंकिंग को प्रभावित कर सकता है क्योंकि यह सुझाव देता है कि वेबसाइट में स्पैमी या गुणवत्ता के बारे में समस्याएँ हो सकती हैं।

स्पैम स्कोर SEO को निम्नलिखित तरीकों से प्रभावित कर सकता है:

  1. रैंकिंग कमी: ज्यादातर सर्च इंजन अल्गोरिदम्स स्पैम साइट्स को कम रैंकिंग देते हैं, इसलिए यदि आपकी वेबसाइट का स्पैम स्कोर उच्च है, तो आपकी वेबसाइट की सर्च रैंकिंग पर असर पड़ सकता है।
  2. कारगर SEO नहीं: अगर आपकी वेबसाइट का स्पैम स्कोर उच्च है, तो सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन (SEO) कार्यशैली कार्यक्षेत्र में काम करना कठिन हो सकता है क्योंकि स्पैम कंटेंट और बैकलिंक्स को प्रमोट करने की कोशिश से SEO प्रतिष्ठा कम हो सकती है।
  3. उपयोगकर्ता आत्त्रहितता: स्पैम स्कोर उच्च होने पर आपकी वेबसाइट पर आने वाले उपयोगकर्ताओं का भरोसा घट सकता है, जिससे आपके विशिष्ट विषयों या उत्पादों की ओर आकर्षण कम हो सकता है।
  4. बैकलिंक्स की गुणवत्ता: यदि आपकी वेबसाइट का स्पैम स्कोर बैकलिंक्स की गुणवत्ता को प्रभावित करता है, तो आपकी वेबसाइट पर जुड़े बैकलिंक्स का भी प्रमोटन कम हो सकता है, जिससे SEO प्रतिष्ठा पर असर पड़ सकता है।

इसलिए, स्पैम स्कोर को कम करने और वेबसाइट की गुणवत्ता को बढ़ाने के लिए उचित बाधाओं को हटाने का प्रयास करना जरूरी होता है, ताकि SEO प्रतिष्ठा और सर्च रैंकिंग में सुधार हो सके।

0 का स्पैम स्कोर क्या होता है?

0 का स्पैम स्कोर आम तौर पर इंगित करता है कि किसी वेबसाइट को स्पैमी या अनैतिक गतिविधियों में शामिल होने का जोखिम बहुत कम माना जाता है। एसईओ उपकरण और सेवाओं द्वारा उपयोग किए जाने वाले कई स्पैम स्कोर मूल्यांकन प्रणालियों में, 0 का स्कोर सर्वोत्तम संभव स्कोर है, जो बताता है कि वेबसाइट साफ, प्रतिष्ठित है और अच्छी एसईओ प्रथाओं का पालन करती है।

स्पैम स्कोर की गणना अक्सर विभिन्न कारकों के आधार पर की जाती है, जिसमें बैकलिंक्स की गुणवत्ता, सामग्री और अन्य ऑन-पेज और ऑफ-पेज तत्व शामिल हैं। जब किसी वेबसाइट का स्पैम स्कोर 0 होता है, तो यह बताता है कि इसमें स्पैम तत्वों की न्यूनतम या अस्तित्वहीन उपस्थिति है, जैसे निम्न-गुणवत्ता वाले बैकलिंक्स, कीवर्ड स्टफिंग, डुप्लिकेट सामग्री, या अन्य युक्तियाँ जिन्हें खोज इंजन स्पैम मान सकते हैं।

0 का स्पैम स्कोर होना किसी वेबसाइट के लिए एक सकारात्मक संकेत है क्योंकि इसका तात्पर्य है कि खोज इंजन परिणामों में अच्छी रैंक करने, उपयोगकर्ताओं का विश्वास हासिल करने और अच्छी ऑनलाइन प्रतिष्ठा बनाए रखने की अधिक संभावना है।

हालाँकि, यह ध्यान रखना आवश्यक है कि स्पैम स्कोर की गणना करने के लिए उपयोग किए जाने वाले विशिष्ट कारक और एल्गोरिदम विभिन्न एसईओ टूल और सेवाओं के बीच भिन्न हो सकते हैं। इसलिए, जबकि 0 का स्पैम स्कोर आम तौर पर सकारात्मक होता है, वेबसाइट मालिकों को अभी भी नियमित एसईओ ऑडिट करना चाहिए और अपनी साइट के प्रदर्शन की निगरानी करनी चाहिए ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि यह स्पैम-मुक्त रहे और खोज इंजन में इसकी अच्छी स्थिति बनी रहे।

मेरा स्पैम स्कोर इतना अधिक क्यों है?

एक उच्च स्पैम स्कोर आम तौर पर इंगित करता है कि आपकी वेबसाइट में ऐसे तत्व या प्रथाएं हो सकती हैं जो स्पैमयुक्त या निम्न-गुणवत्ता वाली सामग्री, लिंक या रणनीति से जुड़ी हैं। कई कारक उच्च स्पैम स्कोर में योगदान कर सकते हैं:

निम्न-गुणवत्ता वाले बैकलिंक्स: यदि आपकी वेबसाइट पर स्पैमयुक्त स्रोतों से बड़ी संख्या में निम्न-गुणवत्ता वाले या अप्रासंगिक बैकलिंक्स हैं, तो यह आपके स्पैम स्कोर को बढ़ा सकता है। ये बैकलिंक लिंक फ़ार्म, निजी ब्लॉग नेटवर्क (पीबीएन), या स्पैमयुक्त लिंक-बिल्डिंग प्रथाओं के लिए जाने जाने वाले अन्य स्रोतों से आ सकते हैं।

पतली या डुप्लिकेट सामग्री: बहुत कम मूल या मूल्यवान सामग्री वाली वेबसाइटें, या जिनमें अधिक मात्रा में डुप्लिकेट सामग्री होती है, उन्हें उच्च स्पैम स्कोर के लिए चिह्नित किया जा सकता है। Google और अन्य खोज इंजन उच्च-गुणवत्ता, अद्वितीय और प्रासंगिक सामग्री वाली वेबसाइटों को प्राथमिकता देते हैं।

कीवर्ड स्टफिंग: कीवर्ड स्टफिंग में खोज इंजन रैंकिंग में हेरफेर करने के प्रयास में कीवर्ड के साथ वेब पेजों को ओवरलोड करना शामिल है। ऐसी प्रथाओं के परिणामस्वरूप उच्च स्पैम स्कोर हो सकता है क्योंकि उन्हें अनैतिक और खोज इंजन दिशानिर्देशों के विरुद्ध माना जाता है।

मैलवेयर या फ़िशिंग: यदि आपकी वेबसाइट में मैलवेयर है या फ़िशिंग गतिविधियों में संलग्न है, तो संभवतः इसका स्पैम स्कोर उच्च होगा। यह एक गंभीर मुद्दा है, क्योंकि यह उपयोगकर्ताओं के लिए सुरक्षा जोखिम पैदा करता है।

अप्राकृतिक लिंकिंग पैटर्न: अप्राकृतिक लिंकिंग पैटर्न, जैसे अत्यधिक पारस्परिक लिंकिंग या लिंक खरीदना, उच्च स्पैम स्कोर में योगदान कर सकते हैं। खोज इंजनों का लक्ष्य उन वेबसाइटों को रैंक करना है जो स्वाभाविक रूप से उनकी सामग्री की गुणवत्ता और प्रतिष्ठा के आधार पर बैकलिंक प्राप्त करते हैं।

उपयोगकर्ता-जनित स्पैम: यदि आपकी वेबसाइट उपयोगकर्ता-जनित सामग्री की अनुमति देती है, तो ठीक से संचालित न होने पर इसमें स्पैमयुक्त या निम्न-गुणवत्ता वाली सामग्री जमा हो सकती है। यह आपके स्पैम स्कोर पर नकारात्मक प्रभाव डाल सकता है।

उच्च स्पैम स्कोर को संबोधित करने और अपनी वेबसाइट की समग्र प्रतिष्ठा और एसईओ प्रदर्शन में सुधार करने के लिए, निम्नलिखित चरणों पर विचार करें:

अपने बैकलिंक्स का ऑडिट करें और निम्न गुणवत्ता वाले या स्पैमयुक्त बैकलिंक्स को अस्वीकार करें।
उच्च गुणवत्ता वाली, मौलिक सामग्री बनाएं जो आपके दर्शकों को मूल्य प्रदान करे।
कीवर्ड स्टफिंग से बचें और ऑन-पेज एसईओ के लिए सर्वोत्तम प्रथाओं का पालन करें।
मैलवेयर और सुरक्षा कमजोरियों के लिए अपनी वेबसाइट को नियमित रूप से स्कैन करें।
उपयोगकर्ता-जनित सामग्री की निगरानी करें और स्पैम को रोकने के लिए मॉडरेशन लागू करें।
नैतिक और प्राकृतिक लिंक-निर्माण रणनीतियों का उपयोग करें।
यह याद रखना महत्वपूर्ण है कि आपके स्पैम स्कोर को कम करने में समय लग सकता है, और दीर्घकालिक एसईओ सफलता के लिए सर्वोत्तम प्रथाओं का लगातार पालन करना आवश्यक है। इसके अतिरिक्त, आप अपने उच्च स्पैम स्कोर में योगदान देने वाले विशिष्ट मुद्दों की पहचान करने और उनका समाधान करने में सहायता के लिए एसईओ टूल या सेवाओं का उपयोग कर सकते हैं।

कौन सा स्पैम स्कोर खराब है?

जब किसी वेबसाइट की गुणवत्ता और विश्वसनीयता का आकलन करने की बात आती है तो उच्च स्पैम स्कोर खराब होता है। स्पैम स्कोर आम तौर पर एक पैमाने पर प्रस्तुत किए जाते हैं, और एक उच्च संख्यात्मक मान या स्कोर वेबसाइट के साथ जुड़े स्पैम या निम्न-गुणवत्ता प्रथाओं की अधिक संभावना को इंगित करता है।

उदाहरण के लिए, यदि आप एक ऐसे टूल का उपयोग कर रहे हैं जो 0 से 100 के पैमाने पर स्पैम स्कोर निर्दिष्ट करता है, तो 90 के स्पैम स्कोर वाली वेबसाइट को आम तौर पर 50 के स्पैम स्कोर वाली वेबसाइट से भी बदतर माना जाता है। 90 में स्पैमयुक्त तत्व, निम्न-गुणवत्ता वाली सामग्री, या संदिग्ध बैकलिंक्स होने की अधिक संभावना है जो इसकी प्रतिष्ठा और खोज इंजन रैंकिंग पर नकारात्मक प्रभाव डाल सकते हैं।

तो, संक्षेप में, स्पैम स्कोर जितना अधिक होगा, वेबसाइट की प्रतिष्ठा और एसईओ प्रदर्शन के लिए उतना ही बुरा होगा। वेबसाइट मालिकों को अच्छी ऑनलाइन प्रतिष्ठा और खोज इंजन दृश्यता बनाए रखने के लिए अपने स्पैम स्कोर को यथासंभव कम रखने का लक्ष्य रखना चाहिए।

एक नकारात्मक स्पैम स्कोर क्या है?

“नकारात्मक स्पैम स्कोर” एसईओ या वेबसाइट विश्लेषण के संदर्भ में इस्तेमाल किया जाने वाला एक सामान्य शब्द नहीं है। स्पैम स्कोर आमतौर पर 0 से 100 के पैमाने पर मापा जाता है, उच्च मान किसी वेबसाइट से जुड़े स्पैमयुक्त या निम्न-गुणवत्ता वाली सामग्री या प्रथाओं की अधिक संभावना का संकेत देते हैं। कम स्पैम स्कोर आम तौर पर वांछनीय है क्योंकि यह बताता है कि वेबसाइट के स्पैमी या अनैतिक रणनीति में शामिल होने की संभावना कम है।

एक उच्च स्पैम स्कोर (100 के करीब) स्पैमयुक्त सामग्री या प्रथाओं के उच्च जोखिम का सुझाव देता है।
कम स्पैम स्कोर (0 के करीब) स्पैमयुक्त सामग्री या प्रथाओं के कम जोखिम का सुझाव देता है।
इसलिए, “नकारात्मक स्पैम स्कोर”यह कभी भी नही हो सकता है और इसका उपयोग आमतौर पर किसी वेबसाइट के स्पैम स्कोर का वर्णन करने के लिए नहीं किया जाएगा। इसके बजाय, खोज इंजन और उपयोगकर्ताओं के बीच अच्छी प्रतिष्ठा बनाए रखने के लिए स्पैम स्कोर को यथासंभव शून्य के करीब लाने पर ध्यान केंद्रित किया गया है।

क्या स्पैम स्कोर रैंकिंग को प्रभावित करता है?

हाँ, स्पैम स्कोर संभावित रूप से किसी वेबसाइट की खोज इंजन रैंकिंग को प्रभावित कर सकता है। स्पैम स्कोर इस संभावना का माप है कि कोई वेबसाइट स्पैमयुक्त या निम्न-गुणवत्ता वाली सामग्री, लिंक या प्रथाओं से जुड़ी हो सकती है। हालाँकि यह Google जैसे खोज इंजनों द्वारा उपयोग किया जाने वाला आधिकारिक मीट्रिक नहीं है, यह किसी वेबसाइट की विश्वसनीयता और विश्वसनीयता का आकलन करने के लिए SEO टूल और सेवाओं द्वारा उपयोग किया जाने वाला एक संकेत है।

यहां बताया गया है कि स्पैम स्कोर किसी वेबसाइट की रैंकिंग को कैसे प्रभावित कर सकता है:

एल्गोरिथम दंड: खोज इंजन खोज परिणामों में वेब पेजों की रैंकिंग निर्धारित करने के लिए जटिल एल्गोरिदम का उपयोग करते हैं। ये एल्गोरिदम किसी वेबसाइट की सामग्री की गुणवत्ता और उसके बैकलिंक प्रोफ़ाइल सहित विभिन्न कारकों को ध्यान में रखते हैं। एक उच्च स्पैम स्कोर एल्गोरिथम दंड को ट्रिगर कर सकता है, जिससे वेबसाइट की रैंकिंग गिर सकती है।

खोज इंजन मानव समीक्षकों को भी नियुक्त करते हैं जो स्पैमयुक्त या अनैतिक प्रथाओं के लिए वेबसाइटों का मूल्यांकन करते हैं। यदि किसी वेबसाइट में कीवर्ड स्टफिंग, लिंक स्कीम या अन्य स्पैमी रणनीति जैसी प्रथाओं के कारण उच्च स्पैम स्कोर पाया जाता है, तो उसे मैन्युअल जुर्माना मिल सकता है। मैन्युअल दंड से रैंकिंग में महत्वपूर्ण गिरावट आ सकती है।

उपयोगकर्ता का भरोसा: उच्च स्पैम स्कोर वाली वेबसाइटें अक्सर उपयोगकर्ताओं द्वारा कम भरोसेमंद के रूप में देखी जाती हैं। यदि उपयोगकर्ताओं को किसी वेबसाइट पर स्पैमयुक्त सामग्री या संदिग्ध लिंक का सामना करना पड़ता है, तो उनके खोज परिणामों पर वापस लौटने की संभावना अधिक होती है, जिसके परिणामस्वरूप बाउंस दर अधिक हो सकती है। उच्च बाउंस दर किसी वेबसाइट की रैंकिंग पर नकारात्मक प्रभाव डाल सकती है।

लिंक गुणवत्ता: एसईओ में बैकलिंक्स एक महत्वपूर्ण रैंकिंग कारक हैं। यदि किसी वेबसाइट का स्पैम स्कोर उच्च है, तो उसमें निम्न-गुणवत्ता या स्पैमयुक्त बैकलिंक्स होने की अधिक संभावना हो सकती है। ये निम्न-गुणवत्ता वाले बैकलिंक्स वेबसाइट की समग्र लिंक प्रोफ़ाइल को नुकसान पहुंचा सकते हैं, जिससे रैंकिंग कम हो सकती है।

सामग्री गुणवत्ता: उच्च स्पैम स्कोर पतली, डुप्लिकेट या निम्न-गुणवत्ता वाली सामग्री से जुड़े हो सकते हैं। खोज इंजन उच्च-गुणवत्ता और मूल्यवान सामग्री को प्राथमिकता देते हैं, इसलिए स्पैमयुक्त सामग्री वाली वेबसाइट खोज परिणामों में उतनी अच्छी रैंक नहीं कर सकती है।

एसईओ रैंकिंग में सुधार करने के लिए, वेबसाइट मालिकों को अपनी वेबसाइटों पर स्पैम से संबंधित मुद्दों की निगरानी और समाधान करना चाहिए, जैसे कम गुणवत्ता वाले बैकलिंक्स को साफ करना, स्पैमयुक्त सामग्री को हटाना और एसईओ के लिए सर्वोत्तम प्रथाओं का पालन करना। हालाँकि स्पैम स्कोर रैंकिंग को प्रभावित करने वाला एकमात्र कारक नहीं है, यह एक महत्वपूर्ण कारक है जिसे नज़रअंदाज नहीं किया जाना चाहिए।

स्पैम स्कोर क्या है?

स्पैम स्कोर एक मीट्रिक है जिसका उपयोग इस संभावना का आकलन करने के लिए किया जाता है कि कोई वेबसाइट स्पैमयुक्त या निम्न-गुणवत्ता वाली सामग्री, लिंक या प्रथाओं से जुड़ी है। इसका उपयोग एसईओ में किसी वेबसाइट की विश्वसनीयता का मूल्यांकन करने के लिए किया जाता है।

स्पैम स्कोर की गणना कैसे की जाती है?

स्पैम स्कोर की सटीक गणना आपके द्वारा उपयोग किए जा रहे टूल या सेवा के आधार पर भिन्न हो सकती है। आमतौर पर, यह बैकलिंक गुणवत्ता, सामग्री गुणवत्ता, उपयोगकर्ता सहभागिता और अन्य स्पैम-संबंधित संकेतों जैसे कारकों का विश्लेषण करके निर्धारित किया जाता है।

क्या स्पैम स्कोर Google जैसे खोज इंजन द्वारा उपयोग किया जाने वाला एक आधिकारिक मीट्रिक है?

नहीं, स्पैम स्कोर खोज इंजन द्वारा उपयोग किया जाने वाला आधिकारिक मीट्रिक नहीं है। यह वेबसाइट मालिकों को संभावित स्पैम-संबंधित मुद्दों की पहचान करने में मदद करने के लिए एसईओ टूल और सेवाओं द्वारा उत्पन्न एक मीट्रिक है।

क्या उच्च स्पैम स्कोर का मतलब यह है कि मेरी वेबसाइट स्पैमयुक्त गतिविधियों में संलग्न है?

आवश्यक रूप से नहीं। एक उच्च स्पैम स्कोर स्पैमयुक्त तत्वों के अधिक जोखिम का सुझाव देता है, लेकिन यह स्पैमयुक्त गतिविधियों की पुष्टि नहीं करता है। स्कोर में योगदान देने वाले विशिष्ट मुद्दों की जांच करना और उनका समाधान करना आवश्यक है।

क्या उच्च स्पैम स्कोर मेरी वेबसाइट की खोज इंजन रैंकिंग को प्रभावित कर सकता है?

हां, उच्च स्पैम स्कोर संभावित रूप से खोज इंजन रैंकिंग को कम कर सकता है। खोज इंजन स्पैमयुक्त तत्वों वाली वेबसाइटों को दंडित कर सकते हैं, जिससे खोज परिणामों में उनकी दृश्यता प्रभावित हो सकती है।

मैं अपनी वेबसाइट का स्पैम स्कोर कैसे जाँच सकता हूँ?

आप विभिन्न SEO टूल और सेवाओं, जैसे Moz, SEMrush, या ऑनलाइन स्पैम स्कोर चेकर्स का उपयोग करके अपनी वेबसाइट का स्पैम स्कोर देख सकते हैं। वे स्कोर प्रदान करने के लिए आपकी वेबसाइट के बैकलिंक्स, सामग्री और अन्य कारकों का विश्लेषण करते हैं।

मैं अपनी वेबसाइट का स्पैम स्कोर कैसे कम कर सकता हूँ?

अपने स्पैम स्कोर को कम करने के लिए, अपनी वेबसाइट की सामग्री की गुणवत्ता में सुधार करने, निम्न-गुणवत्ता वाले बैकलिंक्स को हटाने, कीवर्ड स्टफिंग से बचने और एसईओ सर्वोत्तम प्रथाओं का पालन करने पर ध्यान केंद्रित करें।

क्या उच्च स्पैम स्कोर से उबरना संभव है?

हां, उच्च स्पैम स्कोर में योगदान देने वाले विशिष्ट मुद्दों को संबोधित करके इससे उबरना संभव है। स्पैमयुक्त तत्वों को साफ करने, सामग्री की गुणवत्ता में सुधार करने और खराब बैकलिंक्स को अस्वीकार करने से मदद मिल सकती है।

Leave a Comment